ऑनलाइन विवाह प्रमाणपत्र – Marriage Certificate

यह साबित करने के लिए विवाह अनिवार्य रूप से पंजीकृत होना चाहिए कि आप कानूनी रूप से किसी से विवाहित हैं। गुजरात में, विवाह को हिंदू विवाह अधिनियम, 1955 या विशेष विवाह अधिनियम, 1954 के तहत पंजीकृत किया जा सकता है। इस लेख में, हम गुजरात विवाह प्रमाणपत्र(Marriage Certificate) प्राप्त करने के लिए दिशानिर्देशों को देखते हैं।

विवाह प्रमाणपत्र(Marriage Certificate) का उद्देश्य / Purpose of marriage certificate

विवाह प्रमाण पत्र एक मान्यता प्राप्त दस्तावेज है जो पासपोर्ट, वीजा और पैन कार्ड प्राप्त करने में मदद करता है। इसके अलावा, बैंक जमा और जीवन बीमा का दावा करने के लिए विवाह प्रमाणपत्र की आवश्यकता होती है।

पात्रता मापदंड / Eligibility Criteria

गुजरात में, विवाह प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए, निम्नलिखित मानदंडों को पूरा करना होगा:

  • दोनों दलों को भारत का होना चाहिए। लड़की की उम्र 18 या उससे ज्यादा और लड़के की उम्र 21 या उससे ज्यादा होनी चाहिए।
  • लड़के और लड़की की पहले शादी नहीं होनी चाहिए या पहले से शादीशुदा व्यक्ति के मामले में पति या पत्नी जीवित नहीं होना चाहिए।
  • पार्टियां (लड़का और लड़की) शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होनी चाहिए।
  • वर और वधू को उन संबंधों के तहत संबंधित नहीं होना चाहिए जो कानून के तहत निषिद्ध हैं।
READ  आधार कार्ड अपडेट: अपना नाम, जन्मतिथि और लिंग ऑनलाइन कैसे बदलें

आवश्यक दस्तावेज़ / Required documents for Marriage Certificate

आवेदन पत्र प्रस्तुत करते समय आवेदक द्वारा निम्नलिखित दस्तावेज प्रस्तुत किए जाने हैं। पूर्ण दस्तावेजों को राजपत्रित अधिकारी या नोटरी पब्लिक द्वारा सत्यापित किया जाना चाहिए।

  • जन्म प्रमाणपत्र।
  • पते का प्रमाण जैसे वोटर आईडी कार्ड या राशन कार्ड।
  • विद्यालय छोड़ने का प्रमाणपत्र।
  • शादी का निमंत्रण कार्ड।
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो।
  • राष्ट्रीयता प्रमाण पत्र।

पति का आयु प्रमाण (कोई भी एक) / Age proof of husband

  • एसएससी परीक्षा प्रमाणपत्र
  • जन्म प्रमाणपत्र
  • छोड़ने के प्रमाण पत्र
  • सिविल सर्जन सर्टिफिकेट
  • पासपोर्ट

पत्नी का आयु प्रमाण (कोई भी एक) / Age proof of wife

  • एसएससी परीक्षा प्रमाणपत्र
  • जन्म प्रमाणपत्र
  • छोड़ने के प्रमाण पत्र
  • सिविल सर्जन सर्टिफिकेट
  • पासपोर्ट
READ  अब सिर्फ 10 मिनट में पाएं अपना पैन कार्ड(PAN Card)

पता प्रमाण (कोई भी एक) / Address proof

  • पंजीकृत किराया एग्रीमेंट
  • चुनाव कार्ड
  • पासपोर्ट
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • राशन पत्रिका
  • बिजली का बिल

शादी का सबूत / Proof of marriage

  • शादी का निमंत्रण कार्ड
  • पति और पत्नी के 2 पासपोर्ट साइज फोटो के साथ शादी या शादी की फोटो (अनिवार्य)

तीन गवाह / Three witnesses for Marriage Certificate

  • आधार कार्ड

विवाह प्रमाणपत्र और पंजीकरण प्रक्रिया / Marriage certificate and registration process

  • विवाह अधिकारी के न्यायालय में आवश्यक दस्तावेजों के साथ वर्णन प्रारूप में आवेदन जमा करें।
  • एसडीएम द्वारा दस्तावेजों का सत्यापन किया जाएगा और 3 गवाहों की उपस्थिति में विवाह पंजीकरण किया जाएगा।
  • एसडीएम द्वारा शादी के बाद पार्टी को मैरिज सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा।
READ  ऑनलाइन जाति प्रमाण पत्र कैसे बनवाये? - Jati ka pramanpatra

विवाह पंजीकरण प्रमाणपत्र के लाभ / Benefits of Marriage Registration Certificate

  • यह विशेष रूप से विवाहित महिलाओं के बीच सामाजिक सुरक्षा, आत्मविश्वास प्रदान करता है।
  • विवाह का प्रमाण पत्र विवाह का एक मूल्यवान प्रमाण है।
  • पत्नी/पति का वीजा प्राप्त करने के लिए विवाह प्रमाणपत्र की आवश्यकता होती है।
  • अगर जमाकर्ता या बीमाकर्ता की मृत्यु नामांकन के बिना या अन्यथा हो जाती है तो बैंक जमा या जीवन बीमा पॉलिसी के लाभों का दावा करने में मदद करता है

Leave a Reply

Your email address will not be published.